Showing posts with label गूगल सर्च. Show all posts
Showing posts with label गूगल सर्च. Show all posts

Friday, 19 October 2012

ब्लॉगर में SEO फ्रैंडली 'खोज विवरण' विकल्प

ब्लॉगर ने हाल ही में पोस्ट के लिए खोज विवरण देने की सुविधा प्रदान कर दी है। क्या आप इस सुविधा से अवगत हैं। यदि नहीं तो आइये इसके विषय में जानें।

पहले जब आप कोई पोस्ट बनाते थे तो ब्लॉगर में उसके लिए संक्षिप्त/खोज विवरण देने की कोई सुविधा नहीं थी, इसके लिए मेटा टैग से जुड़े कई हैक्स आये जिससे प्रेरित होकर ब्लॉगर ने इसका विकल्प ही दे डाला। इसका प्रयोग करने से गूगल, याहू, बिंग जैसे सर्च इंजन आपकी पोस्ट को आसानी के साथ सर्च परिणामों में शामिल कर लेते हैं अर्थात्‌ यह SEO फ्रैंडली है।

SEO फ्रैंडली होने का मतलब है कि आपका ब्लॉग सर्च इंजन के खोज परिणामों में जुड़ जाता है और आपके ब्लॉग की रैंक (गूगल पेज रैंक, एलेक्ज़ा रैंक आदि) बढ़ने लगती है।

अपने पोस्ट/पेज को खोज विवरण देने के लिए क्या करें?
यह बहुत आसान है:


Search Description

1. बस आपको पोस्ट बनाते समय दायीं ओर की साइडबार में खोज विवरण विकल्प पर क्लिक करना है 2
2. तत्पश्चात्‌ रिक्त स्थान पर अपना मनचाहा खोज विवरण भरना है (उदाहरण: A post about me इसे apostaboutme नहीं होना चाहिए) 
3. अब आप सम्पन्न बटन पर क्लिक करके इसे सहेज दें 

हो गया तैयार आपका SEO फ्रैंडली स्थायी खोज विवरण। आशा है आप सभी इससे लाभांवित होंगे।

गूगल सर्च में आपका ब्लॉग सबसे ऊपर कैसे आये


Hindi Blog Search
अपनी ग़लतियों से सीखें आपमें से बहुत से लोग लेबल या टैग का ग़लत इस्तेमाल करते हैं। जैसे आप में से बहुत लोगों का लेबल आपका नाम या सर्वाधिकार सुरक्षित ऐसा कुछ होता है। प्रश्न यह है कि आख़िर लेबल है क्या बला? लेबल को आप संदर्भ शब्द से सम्बंधित कर सकते हैं। ऐसे शब्द जो आपकी पोस्ट में बहुत महत्वपूर्ण हैं और आप जिन शब्दों को लेकर गूगल सर्च में अपने ब्लॉग को गूगल सर्च में नामांकित कराना चाहते हैं। आप इससे विस्तृत ढंग से मेरे इस अन्य किसी ब्लॉग पर लगे लेबल या मूल से समझ सकते हैं। एक यही तरीक़ा नहीं है जिससे अपनाकर आप गूगल खोज में सबसे ऊपर आ सकते हैं। और बातें है जिनका ध्यान रखना होता है। जिनमें से एक बात को आपको अवश्य माननी चाहिए वह है कि आप अपने ब्लॉग के हर पृष्ठ को गूगल के लिए अलग कर दें यानी हर पेज अपनी यूनिक आई डी रखे। इसको इस तरह से आसानी से समझ सकते हैं कि जब आप अपने ब्लॉग को ब्राउज़र में खोलते हैं तो ब्राउज़र में ऊपर पहले आपके ब्लॉग का नाम आता है फिर आपकी पोस्ट का नाम आता है फिर कुछ और जैसे इंटरनेट एक्स्प्लोरर या मोज़िला फ़ायर फ़ॉक्स या अन्य कुछ। लेकिन जब आप अपने ब्लॉग के हर पन्ने के लिए यूनीक आई डी सेट कर देते हैं तो सिर्फ़ आपकी पोस्ट का शीर्षक और ब्राउज़र का नाम आता है। ऐसा उत्कृष्ट तरीक़ा आजकल वर्डप्रेस में इस्तेमाल होता हैं। ब्लॉगर ने इसे अभी नहीं अपनाया है लेकिन इसे आगे अपनाया जाना निश्चित है। लेकिन इस बेहतरीन सुविधा से आप आज ही से लाभांवित हो सकते हैं आइए इसे कैसे किया जाये इसे समझें:

प्रक्रिया/अपनाये जाने वाले चरण:
आप डैशबोर्ड पर जायें > फिर लेआउट पर जायें > फिर Edit HTML का विकल्प चुनें

तत्पश्चात इस कोड की सर्च करें:

 और इस पूरे कोड को इस कोड से बदल दें:
और इस तरह सारा काम ख़तम हो गया।
इसके फ़ायदे: 
 1. गूगल में सर्च करने करने पर आपका ब्लॉग 1 से 5 खोज पेजों में शामिल हो जाता है क्योंकि ब्लॉग का हर पेज अलग समझा जाता है। 
 2. आपके ब्लॉग की गूगल रैंक बढ़ती है 
 3. आपके ब्लॉग का ट्रैफिक भी बढ़ता है 


महत्वपूर्ण: इस सब प्रक्रिया में रैंक बढ़ने में लगभग 15 दिन या एक महीना लगेगा या इस बात पर निर्भर करेगा कि आप अपने लेबल/ टैग को किस तरह इस्तेमाल करते आ रहे हैं या अब करेंगे।

ब्लॉगर का नया इन्टर्फ़ेस लागू होने के बाद इतना करने के बाद आपको ये भी करना होगा। New Advanced SEO for Blogger